भारत देश के समस्त राजनैतिक दलों के नाम खुला ख़त

प्रिय राजनैतिक दलों ,
भारत के राजनीतिज्ञ व उनके दल, J N U के हाल ही में हुए विवाद के सम्बन्ध में आप सभी दलों आप, कांग्रेस, लेफ्ट, TMC, बसपा, सपा, जदयू, कमयुनिस्ट, मार्क्सवादी आदि के व्यवहार ने मेरे जैसे तमाम भारतीयों को हैरान व परेशान कर दिया है…

मैं जानता हूँ की विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र की सुंदरता यही है की यहाँ पर विपक्ष बेहद अहम व मजबूत होता है । सरकार की नीतियों की आलोचना करना आपका हक़ है, किंतु JNU के राष्ट्रविरोधी गतिविधियां करने वाले लोगों के विरूद्ध सरकार की कार्यवाही की आलोचना करना… क्या ये आप सभी का देशद्रोह नही है?[xyz-ihs snippet=”Right”]

आप सभी मोदी विरोधी हैं, इसका यह कतई अर्थ नहीं है की आप देश के दुश्मनों का साथ दें ! JNU के राष्ट्र विरोधी लोगों का समर्थन करके आपने देश व लोकतंत्र का विश्व में मज़ाक उड़ाया है राजनैतिक बैर अपनी जगह है और देश की एकता, अखण्डता व सुरक्षा अपनी जगह…!! वो तो अच्छा है कि आतंकी हाफिज सईद मोदी जी के विरुद्ध चुनाव नही लड़ सकता, नहीं तो आपके मोदी विरोधी होने का आलम यह है कि आप उसका भी समर्थन व प्रचार करने में लग जायेंगे![xyz-ihs snippet=”Center”]

देश की सुरक्षा व अखण्डता वाले मुद्दे पर आप सभी दलों का सरकार के ख़िलाफ व देश के दुश्मनों के साथ खड़े होना ये स्पष्ट करता है, की कैसे देश के छोटे से राज्य जितने बड़े देश इंग्लैंड ने भारत जैसे विशाल देश पर 200 साल शासन किया..!![xyz-ihs snippet=”Links”]
आप किसी विचार के विरोधी बनो ये ठीक है, आप किसी व्यक्ति के विरोधी बनो ये ठीक नही पर आप स्वदेश के विरोधी बनो ये तो अक्षम्य अपराध है..
– एक दुःखी देशप्रेमी